पन्ना के बालू ठेकेदार रश्मित सिंह मेहरोत्रा के गुर्गो की खुलेआम दबंगई, छोटे व्यपारीयो पर कहर…!

छतरपुर और पन्ना के रेत ठेकेदारो की आपसी जंग में छोटे बालू व्यपारी गंुडागर्दी का षिकार हो रहे है। आए दिन बालू ठेकेदारो द्वारा पाले हुए गुर्गे ट्रको को रोककर जबरन पैसा वसूलना और बिना किसी सूचना के पुलिस कैम्पस में गाडी खडी करा देते है। इस बात की जानकारी न तो पुलिस विभाग को होती है और न ही खनिज विभाग को। उस समय स्थिती विवादित हो गई जब सतना सांसद गणेष सिंह के खास भाजपा के नेता कैलाष द्विवेदी की बालू से लोड ट्रक को सतना पन्ना बार्डर पर पन्ना के बालू ठेकेदार रष्मित सिंह मेहरोत्रा के गुर्गे ने ट्रक चालक को रोककर मारपीट की और ट्रक लेकर पन्न पुलिस आवास परिसर में जाकर खडा कर दिया। कैलाष द्विवेदी ने बताया कि मामला यह है कि वो अपना व्यपार छतरपुर के सरवाई के पास स्थित बालू डम्प गुप्ता फर्म से व्यपार करते है। क्योकि पइनके बालू की क्वालीटि अच्छी है। ये सभी ट्रक छतरपुर से पन्ना होते हुए सतना, रीवा, शहडोल, सिंगरौली जाते है। तभी इन्हे पन्ना में मेहरोत्रा गु्रप द्वारा इनको परेषान किया जाता है। बताया गया कि इन ट्रको की टीपी कटती है उसके बाद ही ये रवाना होते है। मेहरोत्रा गु्रप छोटे व्यपारीयो को परेषान करता है और दवाब बनाता है कि वो पन्ना अजयगढ से ही बालू खरीदे। जब ट्रक व्यपारी ने पन्ना के खनिज व पुलिस विभाग से की तब जाॅच की गई और टीपी सही पाई गई। ट्रक को छोड दिया गया। पन्ना के अधिकारीयो ने घटना करने वालो पर कार्यवाही की बात कही है। यहाॅ यह सोचने वाली बात है कि लाॅक डाउन के वैसे भी ट्रक व्यपारीयो की कमर टूट गई है। यदि उनको ऐसे परेषान किया गया तो उनके पास मरने के अलावा कोई रास्ता ही बचेगा।